कला एवं संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए प्रमुख मांग को लेकर राष्ट्रीय कला मंच अभाविप का एक प्रतिमण्डल मुख्यमंत्री से मिलकर ज्ञापन सौपा।

आज दिनाँक 02 07 2019 दिन मंगलवार को छात्र नेता सह राष्ट्रीय कला मंच आभविप झारखण्ड संयोजक श्रीआशुतोष द्विवेदी एव समाजसेवी राजीव रंजन के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल झारखण्ड के यशस्वी एव लोकप्रिय मुख्यमंत्री मननीय श्री रघुवर दास से मिलकर कला संस्कृति को बढ़ावा देने के उद्देश्य को लेकर कई प्रमुख मांग को लेकर एक ज्ञापन सौंपा।इस अवसर पर झारखण्ड सरकार की कला एवं संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए सरकार काफ़ी तात्पर्य है लेकिन फ़िर भी हम कला एवं संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए काफ़ी सराहनीय योजनाओं को लाकर युवाओं को एक नई दिशा दे सकते है।मांग इस प्रकार है 1झारखण्ड में भव्य कला भवन की स्थपना हो,2झारखण्ड में कला एव सांस्कृतिक के विकास हेतु कला संस्कृति विसविद्यालय की स्थापन। हो।3झारखण्ड के सभी कलाकारों को मासिक प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाय, साथ ही साथ कलाकारों के लिए सरकार के द्वारा विभिन्न प्रस्थितियो में सहयोग हेतु कलाकार कल्यान कोष की स्थ।पना हो4नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा nsd की तर्ज पर झारखण्ड स्कूल ऑफ ड्रामा jsd की स्थापना हो 5 नेशनल फ़िल्म इंस्टीट्यूट की तर्ज पर झारखण्ड फ़िल्म इंस्टीट्यूट की स्थपना हो।6झारखण्ड की कला संस्कृति विभाग एव झारखण्ड फ़िल्म टेक्निकल कमिटी में युवाओं को भी शामिल किया जाए।7झारखण्ड सरकार द्वारा समय समय पर झारखण्ड युवा महोत्सव का भव्य आयोजन की जाए जिससे युवाओं को अपनी प्रतिभा को दर्शाने का मौका मिल सके।8 फ़िल्म नीति में मिताली घोष को शामिल किया जाए 9 झारखण्ड में फिल्मों को समुचित विकास के लिए रवि किशन सांसद एवं अभिनेता को फ़िल्म नीति का चेयरमैन बनाया जाए।इस पर मननीय मुख्यमंत्री ने कहा कि मांग को ध्यान में रखते हुए जल्द से जल्द पूरा करूंगा। कला एव संस्कृति के विकास ही सरकार की पहली प्राथमिकता है। को ये जानकारी अमित कुमार साहू ने दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *